दिल्ली विधानसभा चुनाव सर्वे- केजरीवाल की होगी वापसी या बीजेपी का खत्म होगा वनवास?

0
230

सर्वे के अनुसार आम आदमी पार्टी सरकार के कामकाज से ज्यादातर दिल्लीवासी खुश हैं, कुल 53 फीसदी लोगों ने केजरीवाल सरकार के काम पर खुशी जताई है।

दिल्ली में विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी और पीएम मोदी की लोकप्रियता में गिरावट आई है, दिल्ली के लोगों ने सीएम के रुप में मोदी से ज्यादा केजरीवाल को पसंद किया है, लोकनीति-सीएसडीएस के सर्वे के मुताबिक 42 फीसदी लोगों ने केजरीवाल के सीएम के रुप में पहली पसंद बताया, दूसरे स्थान पर पीएम मोदी हैं, जिन्हें 32 फीसदी लोगों ने पसंद किया है, हालांकि मोदी प्रधानमंत्री हैं, ऐसे में वो दिल्ली के सीएम क्यों बनेंगे, ज्यादातर लोगों ने यही जवाब दिया।

कितने लोगों ने लिया हिस्सा
ये सर्वे राष्ट्रीय स्तर की राजनीति नहीं बल्कि दिल्ली के बारे में था, ये सर्वे 22 नवंबर से 3 दिसंबर के बीच दिल्ली की 23 विधानसभा क्षेत्रों में कुल 115 जगहों पर किया गया, इस दौरान 2298 लोगों से राय ली गई, जिसके बाद ये सर्वे सामने आया है। केजरीवाल लोगों की पहली पसंद बने हुए हैं।

दिल्ली वाले संतुष्ट
सर्वे के अनुसार आम आदमी पार्टी सरकार के कामकाज से ज्यादातर दिल्लीवासी खुश हैं, कुल 53 फीसदी लोगों ने केजरीवाल सरकार के काम पर खुशी जताई है, सर्वे में 10 में से 9 मतदाताओं ने केजरीवाल सरकार के कामकाज पर संतोष जाहिर किया, जबकि मात्र एक फीसदी ने उस पर असंतोष जताया, ज्यादातर वोटरों ने केजरीवाल द्वारा शिक्षा, स्वास्थ्य और परिवहन में दिये गये कामों को सराहा।

मोदी से भी खुश
सर्वे में ये भी कहा गया है कि 4 में से हर तीन वोट मोदी सरकार के कामकाज से भी खुश है, लेकिन बीस फीसदी लोगों ने बेरोजगारी, महंगाई और आर्थिक मुद्दों पर मोदी सरकार को घेरने की कोशिश की, ऐसे मतदाताओं का कहना था कि चुनावों में ये भी अहम मुद्दे होंगे, मोदी सरकार के परफॉरमेंस को 43 फीसदी लोगों ने पसंद किया है, जो अब तक का सबसे कमतर प्रदर्शन है।

कॉलोनियों को किया वैध
मालूम हो कि विधानसभा चुनाव से ठीक पहले बीजेपी की अगुवाई वाली मोदी सरकार ने दिल्ली की करीब 1700 अवैध कॉलोनियों को वैध करने का ऐलान कर दिया है, ये सर्वे अवैध कॉलोनियों को वैध दर्जा देने वाले बिल के पारित होने से पहले किया गया है, संभव है कि कुछ फीसदी वोटरों का बदलाव हो, फरवरी 2020 में दिल्ली में विधानसभा चुनाव होने हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here