सिंधिया के समर्थन में खुलकर सामने आये कांग्रेस के बागी विधायक, अपनी ही सरकार पर गंभीर आरोप

0
140

ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस में अनदेखी से नाराज होकर पार्टी छोड़ चुके हैं, वो बीजेपी में शामिल हो चुके हैं, उनके समर्थन में 22 विधायकों ने इस्तीफा दिया है।

एमपी की सियासत में पिछले कुछ दिनों से लगातार उठा पटक जारी है, इस बीच कांग्रेस के बागी विधायकों ने बंगलुरु से मीडिया को संबोधित किया है, कांग्रेस की बागी विधायक इमरती देवी ने सिंधिया के पक्ष में खुलकर बयान दिया है, साथ ही उन्होने कमलनाथ सरकार पर निशाना साधा है, उन्होने मीडिया से बात करते हुए कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ही हमारे नेता हैं, हम हमेशा उनके साथ रहेंगे, भले ही हमें कुंए में कूदना पड़े।

अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा
इमरती देवी के अलावा बागी विधायक गोंविद सिंह राजपूत ने भी कमलनाथ सरकार पर हमला बोला, उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कभी भी हमें 15 मिनट नहीं सुना, जबकि उन्हें खुद ही हमसे विकास कार्यों के बारे में पूछना चाहिये, लेकिन उनके पास फुर्सत ही नहीं है, हम ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ थे, हैं और रहेंगे।

तेजी से बदल रहे हैं घटनाक्रम
मालूम हो कि ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस में अनदेखी से नाराज होकर पार्टी छोड़ चुके हैं, वो बीजेपी में शामिल हो चुके हैं, उनके समर्थन में 22 विधायकों ने इस्तीफा दिया है, इन विधायकों को बंगलुरु में रखा गया है, हालांकि विधानसभा स्पीकर ने इन विधायकों का इस्तीफा अभी तक एक्सेप्ट नहीं किया है, क्योंकि उनका कहना है कि जबरदस्ती उनसे इस्तीफा दिलवाया जा रहा है, वो सभी विधायकों से मिलने के बाद ही इस्तीफा स्वीकार करेंगे।

फ्लोर टेस्ट को तैयार नहीं
राज्यपाल लालजी टंडन ने 16 मार्च सोमवार को ही कमलनाथ सरकार को फ्लोर टेस्ट कराने को कहा था लेकिन स्पीकर ने राज्यपाल के अभिभाषण के बाद 26 मार्च तक के लिये विधानसभा स्थगित कर दिया, कहा गया कि कोरोना वायरस की वजह से फैसला लिया गया है, दूसरी ओर विधानसभा स्पीकर के इस फैसले के खिलाफ बीजेपी सुप्रीम कोर्ट पहुंची है, जहां मामले पर सुनवाई होना है, कमलनाथ सरकार को बहुमत खोने का डर है, इसी वजह से वो फ्लोर टेस्ट से पीछे हट रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here