Friday, April 23, 2021

बिहार- घुसपैठियों के मुद्दे पर सीएम योगी से भिड़े नीतीश, कहा किसी में दम नहीं! वीडियो

सीएम योगी ने कहा कि कटिहार घुसपैठ से समस्या से त्रस्त है, जिससे एनडीए सरकार ही निजात दिला सकती है।

बिहार चुनाव आखिरी चरण में है, आखिरी चरण में 7 नवंबर को मतदान होना है, जिसमें सीमांचल के 4 जिलों की 24 सीटों पर भी वोट डाले जाएंगे। जिसमें पूर्णिया, किशनगंज, कटिहार और अररिया है, यहां मुस्लिम वोटरों की संख्या अच्छी खासी है, सबसे खास बात ये है कि यहां बांग्लादेशी शरणार्थी भी एक बड़ा मुद्दा है, बीजेपी लंबे समय से इस पर सियासत करती रही है, एक बार फिर से सीएम योगी ने 3-4 रैलियों में इस मुद्दे को उठाया है, साथ ही दावा किया है कि अगर एनडीए की सरकार बनी, तो घुसपैठियों को भगाया जाएगा, वहीं बिहार में एनडीए का नेतृत्व कर रहे सीएम नीतीश कुमार ने साफ तौर से कहा है कि ये बातें बकवास है।

क्या कहा सीएम योगी ने
बुधवार को बीजेपी के फायरब्रांड नेता, स्टार प्रचारक और यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ कटिहार जनसभा करने पहुंचे, जहां उन्होने मंच से खुले तौर पर कहा कि अगर एनडीए सत्ता में आई, तो घुसपैठियों को निकाल बाहर किया जाएगा, सीएम योगी ने कहा कि कटिहार घुसपैठ से समस्या से त्रस्त है, जिससे एनडीए सरकार ही निजात दिला सकती है।

नीतीश का पलटवार
वहीं किशनगंज जिले में एक जनसभा को संबोधित करते हुए बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू प्रमुख नीतीश कुमार ने कहा कि हिंदुस्तान से किसी को बाहर करने का किसी में दम नहीं है, इसके बाद योगी की रैली के बाद नीतीश कुमार कटिहार पहुंचे, तो उन्होने यहां कहा कि कुछ लोग दुष्प्रचार और फालतू बात कर रहे हैं, कि देश से निकाल दिया जाएगा, किसी में इतना दम नहीं है, कि किसी को देश से बाहर निकाल दे।

सीएए-एनआरसी मुद्दा
आपको बता दें कि सीमांचल के इलाके में होने वाले चुनाव से पहले ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम ने सीएए-एनआरसी को मुद्दा बना दिया है, मुस्लिम बहुल इलाकों में ये मामला छाया हुआ है, बहरहाल एनडीए के दोनों नेता एक ही मुद्दे पर अलग-अलग बात कर रहे हैं, जिससे कंफ्यूजन की स्थिति बन रही है।

Read Also – AK-47 वाला IPS अफसर, थाने की जीप चुरा कर आये थे सुर्खियों में, ये हैं बिहार के सिंघम!

Related Articles

- Advertisement -spot_img

Latest Articles