भव्य राम मंदिर को लेकर अमित शाह का बड़ा ऐलान, कहा जीवन धन्य…

0
86

अमित शाह ने कहा कि सैकड़ों साल पुराने मामले को कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल लटकाये रखना चाहते थे, लेकिन मोदी सरकार की कोशिश से सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई तेज हुई।

मोदी सरकार में होम मिनिस्टर और बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने राम मंदिर को लेकर बड़ा ऐलान किया है, उन्होने कहा कि तीन महीने में अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण का काम शुरु हो जाएगा, उन्होने मंदिर मुद्दे पर भी विपक्ष को कटघरे में खड़ा करते हुए उन पर बड़ा हमला बोला है।

मंदिर निर्माण
अमित शाह ने कहा कि सैकड़ों साल पुराने मामले को कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल लटकाये रखना चाहते थे, लेकिन मोदी सरकार की कोशिश से सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई तेज हुई, हम लोगों का जीवन धन्य है, जो हमारे जीवन काल में अयोध्या में भव्य गगनचुंबी राम मंदिर का निर्माण होने जा रहा है।

कपिल सिब्बल ने किया था विरोध
केन्द्रीय गृह मंत्री ने लखनऊ के बंगला बाजार स्थित रामकथा पार्क में नागरिकता कानून को लेकर आयोजित रैली में कहा, कि सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कई बार राम मंदिर पर सुनवाई का विरोध किया, उन्होने अड़ंगा डालने की कोशिश की ।

जीवन धन्य हो जाएगा
अमित शाह ने आगे बोलते हुए कहा कि उस दिन हमारा जीवन धन्य हो जाएगा, जिस दिन श्रीराम जन्मभूमि पर बनने वाले गगनचुंबी मंदिर में रामलला विराजमान होंगे, शाह ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णय से बनने वाले राम मंदिर का भी कांग्रेस, अखिलेश यादव और मायावती विरोध कर रहे हैं।

मंदिर निर्माण में अड़ंगा
गृह मंत्री ने कहा कि 5 सौ साल पुराने भगवान श्रीराम का मंदिर आक्रमणकारियों ने तोड़ दिया था, मंदिर निर्माण के लिये लगातार आंदोलन किया गया, लाखों लोगों ने बलिदान किया, जब तक कांग्रेस की सरकार सत्ता में थी, उसने राम मंदिर निर्माण का कार्य शुरु नहीं होने दिया। कोर्ट में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल कहते रहे कि अभी सुनवाई ना करिये, केन्द्र में मोदी सरकार के आते ही कोर्ट में जल्द सुनवाई शुरु कराने की कोशिश हुई, तो भी सिब्बल ने अड़ंगा डाला, अमित शाह ने कहा जब जनता ने 303 सीटों के साथ दोबारा मोदी की सरकार बनवाई, तो केन्द्र की कोशिश से सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई तेज हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here