congress

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के कोषाध्यक्ष अहमद पटेल पिछले महीने 1 अक्टूबर को कोरोना संक्रमित पाये गये थे, उन्हें 15 नवंबर को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में आईसीयू में भर्ती कराया गया था।

कांग्रेस के दिग्गज नेता और सोनिया गांधी के करीबी कहे जाने वाले अहमद पटेल का इंतकाल हो गया है, बुधवार तड़के सुबह 3.30 बजे उन्होने आखिरी सांस ली, उनके बेटे फैसल पटेल ने ये जानकारी दी है, 71 वर्षीय अहमद पटेल को पिछले दिनों तबीयत खराब होने की वजह से गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था, अक्टूबर के पहले सप्ताह में वो कोरोना संक्रमित पाये गये थे।

बेटे ने दी जानकारी
अहमद पटेल के बेटे फैसल पटेल ने ट्विटर पर जानकारी दी है, उन्होने लिखा है, बड़े दुख के साथ सूचित कर रहा हूं कि मेरे पिता श्री अहमद पटेल का असामयिक निधन हो गया, 1 महीने पहले कोरोना संक्रमित पाये जाने के बाद उनका स्वास्थ्य मल्टीपल आर्गन फेलियर के कारण और भी खराब हो गया, अल्लाह जन्नतुल फिरदौस बख्शे, पटेल ने अपने सभी शुभचिंतकों से कोरोना नियमों का पालन करने का अनुरोध किया है।

आईसीयू में थे भर्ती
भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के कोषाध्यक्ष अहमद पटेल पिछले महीने 1 अक्टूबर को कोरोना संक्रमित पाये गये थे, उन्हें 15 नवंबर को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में आईसीयू में भर्ती कराया गया था, 1 अक्टूबर को अहमद पटेल ने बताया था कि वो कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं, उनके संपर्क में आये लोग भी अपना जांच करा लें।

सोनिया-राजीव के करीबी
8 बार के सांसद अहमद पटेल को गांधी परिवार का बेहद करीबी माना जाता था, वो राजीव गांधी और सोनिया गांधी के निजी सचिव भी रहे, 2018 में उन्हें कांग्रेस का कोषाध्यक्ष नियुक्त किया गया था, उन्होने साल 1976 में अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत भरुच जिले में स्थानीय निकाय चुनाव लड़कर किया था, बाद में गुजरात और केन्द्र दोनों जगह कांग्रेस के संगठन की जिम्मेदारी संभाली।