कोरोना ने योगी सरकार की महिला मंत्री की ले ली जान, मुश्किल सीट पर लहराया था भगवा!

0
215
yogi minister

लखनऊ में पैदा हुई कमलारानी की शादी एलआईसी के प्रशासनिक अधिकारी रहे किशन लाल वरुण से हुई थी, किशन लाल आरएसएस के प्रतिबद्ध स्वयंसेवक थे।

योगी सरकार में तकनीकी शिक्षा मंत्री कमला रानी वरुण का निधन हो गया है, आपको बता दें कि मंत्री कोरोना संक्रमित थी, 18 जुलाई को सिविल अस्पताल में उनके सैंपल की जांच की गई थी, जिसमें उनमें कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई थी, उनके परिवार के कुछ और भी लोग कोरोना संक्रमित हैं, उनका इलाज लखनऊ के पीजीआई अस्पताल में चल रहा था, जहां उन्होने आखिरी सांस ली।

मुश्किल सीट पर लहराया था भगवा
2017 यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने उन्हें कानपुर के घाटमपुर सीट से चुनावी मैदान में उतारा था, वो इस सीट से जीत हासिल करने वाली बीजेपी की पहली विधायक थी,  पार्टी के प्रति उनकी निष्ठा और लगन को देखते हुए उन्हें योगी सरकार में मंत्री बनाया गया था।

पार्षद से सांसद, विधायक और मंत्री तक का सफर
लखनऊ में पैदा हुई कमलारानी की शादी एलआईसी के प्रशासनिक अधिकारी रहे किशन लाल वरुण से हुई थी, किशन लाल आरएसएस के प्रतिबद्ध स्वयंसेवक थे, कमलारानी ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत बतौर पार्षद की थी, पहली बार साल 1989 में वो पार्षद बनी, फिर 1995 में दोबारा पार्षद चुनी गई, इसके बाद अगले ही साल बीजेपी ने उन्हें घाटमपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा दिया, उन्होने जीत हासिल कर राजनीतिक पंडितों को चौंका दिया था, फिर 1998 में दोबारा सांसद बनी, लेकिन 1999 लोकसभा चुनाव में बसपा प्रत्याशी से मात्र 585 वोटों से हार गई।

घाटमपुर से पहली बीजेपी विधायक
2012 विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने उन्हें रसूलाबाद (कानपुर देहात) सीट से चुनावी मैदान में उतारा, हालांकि यहां भी उन्हें हार का सामना करना पड़ा, फिर साल 2015 में उनके पति का निधन हो गया, 2017 में उन्होने घाटमपुर सीट से बीजेपी से टिकट मांगा और पहली बार इस सीट पर भगवा लहराया, जिसके बाद 2019 में योगी सरकार में उन्हें मंत्री पद दिया गया।

Read Also – नमो के लिये 4 करोड़ की फिरौती, 17 घंटे में यूपी पुलिस ने बच्चे को किया सकुशल बरामद, योगी का बड़ा ऐलान