up police

सदर कोतवाली थाना पुलिस को दिये गये तहरीर में महिला दरोगा ने लिव इन में रह रहे अपने प्रेमी पर कई तरह के आरोप लगाये हैं।

यूपी के महाराजगंज जिले में तैनात एक महिला दरोगा ने लिव इन में रह रहे अपने प्रेमी पर दुष्कर्म की कोशिश का मुकदमा दर्ज कराया है, महिला दरोगा की तहरीर पर कोतवाली पुलिस ने आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले में जांच शुरु कर दी है।

लिन इन में रह रही थी महिला दरोगा
सदर कोतवाली थाना पुलिस को दिये गये तहरीर में महिला दरोगा ने लिव इन में रह रहे अपने प्रेमी पर कई तरह के आरोप लगाये हैं, महिला दरोगा ने तहरीर में लिखा है, कि आरोपित से उसकी पुरानी जान-पहचान है, आरोपित प्रद्युम्न यादव, मोहल्ला बौद्ध नगर, नौबस्ता थाना कानपुर नगर का रहने वाला है। शिकायत के अनुसार पिछले दिनों उसने महिला दरोगा के मोबाइल से एटीएम का पिन नंबर लेकर जालसाजी कर 10 लाख रुपये निकाल लिये, मामले की जानकारी होने के बाद जब दरोगा ने आरोपित से संपर्क किया, तो वो 21 जून को महाराजगंज स्थित आवास पर आया और पूछताछ करने पर छेड़छाड़ करने लगा।

शारीरिक संबंध बनाने की भी कोशिश
महिला दरोगा ने ये भी आरोप लगाया कि इस दौरान उसने शारीरिक संबंध बनाने की भी कोशिश की, जब शोर मचाने लगी, तो उसने दुपट्टे से उसका गला कस दिया, शोर सुनकर आस-पड़ोस के लोग जमा हो गये, जिसके बाद आरोपित धमकी देते हुए मौके से फरार हो गया। वहीं महिला दरोगा के साथ लिव इन में रह रहे प्रेमी ने कुछ दिनों पहले ट्विटर के माध्यम से पुलिस के आला अधिकारी से लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ तक से न्याय की गुहार लगाई थी।

आरोपित का क्या कहना है
आरोपित ने लिखा था महिला दरोगा वर्दी का दुरुपयोग करते हुए उसे डरा धमका कर 2 सालों तक अवैध अभिरक्षा में रखकर अनैतिक कार्य करने के लिये मजबूर किया, साथ ही शारीरिक और मानसिक शोषण भी किया। इतना ही नहीं उन्नाव में तैनाती के दौरान महिला दरोगी की चंगुल से आरोपित की पत्नी जब अपने पति को छुड़ाने पहुंची, तो महिला दरोगा ने उन पर मारपीट का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज करवा दी थी, साथ ही आरोपित को धमकी देते हुए साथ रहने के लिये मजबूर किया, कि अगर उसकी बात नहीं मानी, तो रेप केस में फंसा देगी।

उन्नाव में तैनाती के दौरान भी बवाल
आपको बता दें कि महिला दरोगा की तैनाती जहां भी रही, वहां वो विवादों में रही है, उन्नाव में तैनाती के दौरान लिव इन वाली बात को लेकर महिला दरोगा के आवास पर आरोपित की पत्नी नो हंगामा कर दिया था, घटना का वीडियो खूब वायरल हुआ था, हालांकि जब पुसलिस की किरकिरी हुई, तो विभाग ने महिला दरोगा का महाराजगंज ट्रांसफर कर दिया। फिलहाल महिला दरोगा और उसके प्रेमी के मामले की जांच शुरु हो गई है, कोतवाली प्रभारी मनीष सिंह ने बताया कि दरोगा की तहरीर पर आरोपित के खिलाफ जालसाजी और दुष्कर्म के प्रयास समेत दर्जनभर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Read Also – अब समझौता करना चाहती है थप्पड़ गर्ल, पुलिस पर उठाये सवाल, कही ऐसी बात