ढह गया विकास दूबे का साम्राज्य, 2 और साथी पुलिस मुठभेड़ में ढेर, आर-पार के मूड में यूपी एसटीएफ!

0
515
UP STF

एसएसपी ने बताया कि बव्वन शुक्ला पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित था, उसके खिलाफ चौबेपुर थाने में विकरु गांव में हुए पुलिस टीम पर हमले में शामिल होने का आरोप भी था।

कानपुर देहात शूटआउट के मुख्य आरोपी विकास दूबे का साम्राज्य एक-एक कर ढहता जा रहा है, 8 पुलिस वालों की शहादत के मामले में फरार चल रहे विकास के दो और करीबी साथियों को एसटीएफ ने गुरुवार को मार गिराया, कानपुर में एसटीएफ दरोगा का पिस्टल छीनकर भाग रहे प्रभात मिश्रा उर्फ कार्तिकेय को पुलिस ने ढेर कर दिया, तो इधर इटावा में प्रवीण उर्फ बव्वन शुक्ला को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया, बब्वन पर 50 हजार का इनाम था, उसके खिलाफ विकरु गांव में पुलिस टीम पर हुए हमले में शामिल होने का आरोप था।

कार लूट भाग रहा था
एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि आज सुबह तड़के तीन बजे महोवा थाना क्षेत्र के हाइवे पर बकेवर के पास एक स्विफ्ट डिजायर डीएल-1जेड-ए 3602 को स्कॉर्पियो सवार चार असलहाधारी बदमाशों ने लूट लिया, Kanpur dehat इसके बाद करीब सुबह साढे 4 बजे पुलिस ने इन्हें सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के कचौरा रोड पर घेरा, इसके बाद पुलिस ने कार का पीछा किया, तो कार पेड़ से जा टकराई, अपराधियों ने फायरिंग शुरु कर दी, पुलिस की ओर से जवाबी फायरिंग में बदमाश को कई गोलियां लगी, उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया, बदमाश की पहचान प्रवीण उर्फ बव्वन शुक्ला के रुप में हुई है। हालांकि उसके तीन साथी भागने में सफल रहे, उनकी तलाश में भी दबिश दी जा रही है, मृत बदमाश के पास से एक पिस्टबल, एक डबल बैरल बंदूक और भारी मात्रा में कारतूस बरामद की गई है।

50 हजार का ईनामी
एसएसपी ने बताया कि बव्वन शुक्ला पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित था, उसके खिलाफ चौबेपुर थाने में विकरु गांव में हुए पुलिस टीम पर हमले में शामिल होने का आरोप भी था, up encounter बव्वन विकास दूबे का खास आदमी माना जाता था, लेकिन इस हमले के बाद से वो फरार था।

प्रभात को फरीदाबाद से किया था गिरफ्तार
प्रभात मिश्रा उर्फ कार्तिकेय को पुलिस ने फरीदाबाद के होटल से गिरफ्तार किया था, बताया जा रहा है कि उसी होटल में विकास दूबे भी ठहरा था, हालांकि पुलिस के पहुंचने से पहले वो वहां से निकलने में सफल रहा, जिसके बाद पुलिस के हत्थे प्रभात चढा था, पूछताछ में उसने कई बड़े खुलासे भी किये थे।

Read Also – भागते-भागते जमीन कम पड़ गई, खुद ही चिल्लाने लगा विकास दूबे, महाकाल की शरण में गिरफ्तार