moradabad1

कोतवाली ठाकुरद्वारा में पीआरवी के वाहन संख्या 0281 पर तैनात कांस्टेबल अनिल कुमार की जगह उनका साला सुनील उर्प सनी ड्यूटी कर रहा था।

यूपी पुलिस में भी आये दिन से एक से बढकर एक मामले सामने आते रहते हैं, अब ताजा मामला यूपी के मुरादाबाद जिले का है, जहां पुलिस विभाग में एक बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है, जहां 5 साल से जीजा की पहल नौकरी करते हुए साले को पकड़ा गया है, इस मामले के खुलासे के बाद दोनों आरोपियों के खिलाफ एक्शन की तैयारी है।

बड़ी चूक
कोतवाली ठाकुरद्वारा में पीआरवी के वाहन संख्या 0281 पर तैनात कांस्टेबल अनिल कुमार की जगह उनका साला सुनील उर्प सनी ड्यूटी कर रहा था, वो करीब 5 साल से 112 पीआरवी पर तैनात था, इसी फर्जीवाड़े की शिकायत की गई, जिसके आधार पर मामले की जांच शुरु हुई, तो पुलिस विभाग में बड़ी चूक सामने आई।

जीजा हिरासत में
आरोपित फर्जी सिपाही सुनील उर्फ सनी है, मामले में उसके जीजा अनिल कुमार को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है, जबकि इसकी जानकारी होने पर साला फरार हो चुका है, पुलिस उसकी तलाश में दबिश दे रही है, पुलिस दोनों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज करने की तैयारी में है, एएसपी अनिल कुमार यादव ने कहा कि पूरे मामले की जांच की जा रही है, एक शिकायत के आधार पर पूरे मामले का खुलासा हुआ है।

मुजफ्फरनगर का है आरोपित
आरोपित मूल रुप से मुजफ्फरनगर का रहने वाला है, वहीं उसके जीजा के शिक्षा विभाग में तैनात होने की जानकारी मिली है, हालांकि अभी पुलिस अधिकारियों ने इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है, UP Police माना जा रहा है कि आरोपी से पूछताछ के बाद पुलिस इस बारे में विस्तार से जानकारी देगी।

Read Also – यूपी बना कोरोना का नया अड्डा-श्मशान-अस्पतालों में लगी लाइनें है सबूत, क्या है कारण?