नाग पंचमी पर सांप को मारना गांव वालों को पड़ रहा भारी, नागिन ने अब तक 26 को बनाया शिकार

0
728
snake

इस बारे में गांव के लोगों ने बताया कि नाग पंचमी के दिन गांव के मंदिर में डेरा डालकर बैठने वाले नाग के जोड़े में से एक सांप को ग्रामीणों ने मार दिया, उस दिन से ही नागिन ने पूरे गांव वालों को जीना हराम कर रखा है।

आपने गांव घर में अकसर बड़े बुजुर्गों से नाग-नागिन से जुड़े किस्से कहानियां सुनी होगी, आपने सुना होगा, कि अगर नाग या नागिन में से किसी को कोई अकेला कर देता है, तो उसका जोड़ीदार बदला जरुर लेता है, हालांकि कुछ लोग इसे सच नहीं मानते, लेकिन आज हम आपको जो खबर बताने जा रहे हैं, वो बुजुर्गों की इन बातों को सच साबित कर रहा है, दरअसल नाग पंचमी के दिन नाग को मारना गांव वालों को भारी पड़ गया है, बताया जा रहा है, जब से गांव वालों ने नाग को मारा है, तब से नागिन ने पूरे गांव में हड़कंप मचा रखा है, ये खबर यूपी के बहराइच जिले के चिलबिला गांव की बताई जा रही है, जहां दो दिनों के भीतर ही नागिन ने 26 लोगों को डसा है, जिसमें से एक युवक की मौत भी हो चुकी है।

दहशत का माहौल
बताया जा रहा है कि नागिन के प्रतिशोध से पूरे गांव में दहशत का माहौल है, रिपोर्ट्स के मुताबिक रुपईडीहा थाने के बाबागंज इलाके में खेतों में इन दिनों पानी का स्तर काफी बढ गया है, nag nagin जिसकी वजह से आस-पास जहरीले साफ बाहर निकल रहे हैं, वो शंकरपुर से लेकर चिलबिला, बेलभरिया समेत कई गांव में तीन दर्जन से ज्यादा ग्रामीणों तथा आधा दर्जन के करीब पशुओं को अपना निशाना बना चुके हैं।

26 लोगों को निशाना
रिपोर्ट के अनुसार शंकरपुर में पशुओं को चारा देने जा रहे इबरार को रविवार के दिन एक सांप ने काटने की कोशिश की, लेकिन किसी तरह से वो भागकर अपनी जान बचाने में सफल रहा, लेकिन तभी किसी ने सांप को मार दिया, जिसके बाद से नागिन पर बदले का भूत सवार हो गया है, उसने दो दिनों के भीतर ही 26 को अपना निशाना बनाया है, जिसमें मुनीष कुमार नामक एक शख्स की मौत भी हो चुकी है।

नाग पंचमी के दिन मार दिया
इस बारे में गांव के लोगों ने बताया कि नाग पंचमी के दिन गांव के मंदिर में डेरा डालकर बैठने वाले नाग के जोड़े में से एक सांप को ग्रामीणों ने मार दिया, उस दिन से ही नागिन ने पूरे गांव वालों को जीना हराम कर रखा है, nag nagin आतंक का मंजर ऐसा है कि सोते समय भी सर्प दंश का एहसास होता है, फिलहाल गांव के लोग झाड़-फूंक का सहारा ले रहे हैं, कुछ लोगों ने तो अपने बच्चों को रिश्तेदारों के यहां भेज दिया है। इस बारे में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बाबागंज के चिकित्सा अधिकारी डॉ. विवेक सिंह से जब बात की गई, तो उन्होने कहा कि स्वास्थ्य केन्द्र में सांप का वैक्सीन है, लेकिन मरीज को तुरंत अस्पताल तक पहुंचाने की सुविधा का इंतजाम करना होगा।

Read Also – नमो के लिये 4 करोड़ की फिरौती, 17 घंटे में यूपी पुलिस ने बच्चे को किया सकुशल बरामद, योगी का बड़ा ऐलान