Noida 47

हत्या के बाद रजनीकांत ने पत्नी के शव को घर में ही गड्ढा खोदकर दफनाने की कोशिश की, लेकिन वो सफल नहीं हो सका।

ग्रेटर नोएडा में अवैध संबंध के शक में एक पति ने अपनी प्रेग्नेंट पत्नी की हत्या कर दी, आरोपित पति नोएडा स्थित एक कंपनी में इंजीनियर है, बताया जा रहा है कि हत्या के बाद शव को 2 दिन घर में ही रखा, पहले ठिकाने लगाने की कोशिश करता रहा, फिर बुधवार दोपहर खुद थाने पहुंचकर पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल लिया, जिसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिये भेज दिया, पुलिस के अनुसार 22 फरवरी को सुबह 6.30 बजे खुशी की बिस्तर पर ही गला दबाकर हत्या की गई थी, दोनों ने आर्य समाज मंदिर बीटा-2 में करीब 10 महीने पहले शादी की थी।

मिस कॉल से शुरु हुई लव स्टोरी
ग्रेटर नोएडा एडिशनल डीसीपी विशाल पांडे ने बताया कि मूल रुप से एटा का रहने वाला रजनीकांत दीक्षित सेक्टर अल्फा-2 स्थित एक मकान में किराये पर पत्नी खुशी (24 साल) के साथ रह रहा था, रजनीकांत ने बताया कि 3 साल पहले एक मिस कॉल आया था, इस दौरान फोन पर बातचीत के बाद दोनों के प्रेम संबंध बन गये, दोनों ने करीब 10 महीने पहले लव मैरिज की थी, खुशी सिंगर थी और माता के जागरण इत्यादि कार्यक्रमों में गाती थी, ये दोनों 4 महीने पहले ही नोएडा के भंगेल से अल्फा 2 में रहने आये थे, खुशी 8 महीने की प्रेग्नेंट थी।

22 फरवरी को हत्या
पुलिस पूछताछ में आरोपित ने बताया कि 21 फरवरी शाम उसने देखा कि उनके घर से हरियाणा का रहने वाला बबलू नाम का युवक निकल रहा था, खुशी उस शख्स को शादी से पहले से जानती थी, उसका नंबर पत्नी के मोबाइल में भी सेव था, यहां तक कि व्हाट्सएप्प पर भी चैट करती थी, रजनीकांत ने पत्नी से बबलू के बारे में पूछा, तो विवाद शुरु हो गया, जिसके बाद आरोपित ने अवैध संबंध के शक में 22 फरवरी की सुबह पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी, फिर दो दिन पत्नी के शव के साथ रहा।

लाश ठिकाने लगाने की कोशिश
हत्या के बाद रजनीकांत ने पत्नी के शव को घर में ही गड्ढा खोदकर दफनाने की कोशिश की, लेकिन वो सफल नहीं हो सका, जिसके बाद घर में बने सीवर के मेनहोल को खोलकर शव को उसमें डालने की कोशिश की, वो शव को ठिकाने नहीं लगा सका, सूत्रों के अनुसार जब वो शव को ठिकाने नहीं लगा पाया, तो घटना की जानकारी घरवालों को दी, बताया जा रहा है कि परिवार में कुछ लोग पुलिस में नौकरी करते हैं, उन्होने तुरंत आरोपित को जुर्म कबूलने और सरेंडर करने की सलाह दी, जिसके बाद आरोपित खुद थाने पहुंच गया।

पड़ोसियों को नहीं लगी भनक
रजनीकांत के घर वालों को लव मैरिज की जानकारी नहीं थी, उसे डर था कि घर वाले विरोध करेंगे, हत्या के बाद परिजनों को शादी के बारे में पता चला है, वो दो रात पत्नी के पास बैठकर उसके चेहरे को निहारता रहा, एक पल के लिये सो नहीं सका, हत्या के बाद उसने भागने की भी कोशिश की, रजनीकांत ने बताया कि पड़ोसियों को बदबू ना आए, इसलिये पत्नी के शव पर फ्रीज से बर्फ निकालकर रखा, यहां तक कि पूरे कमरे में परफ्यूम भी स्प्रे किया था, पत्नी की हत्या के बाद वो ऑफिस नहीं गया, बल्कि सुबह से शाम तक शहर में इधर-उधर घूम कर आ जाता था, इस हत्याकांड की जानकारी उसने पड़ोसियों को नहीं लगने दी, उसने अपने व्यवहार में बिल्कुल बदलाव नहीं किया।

Read Also – यूपी में बलात्कारियों की खैर नहीं, मिशन शक्ति के अंतर्गत 2 दिन में 14 को फांसी, 20 को उम्रकैद