हाथरस केस में एक्शन में सीएम योगी, लिया बड़ा फैसला

0
1446

पीड़िता का शव रात में उसके गांव पहुंचाया गया, पुलिस और प्रशासन ने आधी रात को ही लड़की के शव का अंतिम संस्कार कर दिया।

हाथरस में 19 वर्षीय युवती के साथ हुई दरिंदगी ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है, यूपी पुलिस प्रशासन पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं, इन सब के बीच सीएम योगी एक्शन में नजर आ रहे हैं, सीएम योगी ने मामले में एसआईटी का गठन किया है, उन्होने बताया कि इस मामले की जांच एसआईटी करेगी, साथ ही केस स्पेशल फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलेगी।

एसआईटी गठित
हाथरस मामले में सीएम योगी ने पूरे मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में लाने के निर्देश दिये हैं, मामले के सभी चारों आरोपी पुलिस की गिरफ्त में हैं। सीएम योगी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए एसआईटी का गठन किया है, गृह सचिव की अध्यक्षता में इस कमेटी का गठन किया गया है, डीआईजी चंद्र प्रकाश और आईपीएस पूनम को इसका सदस्य बनाया गया है, घटना की तह तक जाने तथा समयबद्ध रिपोर्ट देने के निर्देश दिये गये हैं।

पुलिस पर आरोप
आपको बता दें कि पीड़िता का शव रात में उसके गांव पहुंचाया गया, पुलिस और प्रशासन ने आधी रात को ही लड़की के शव का अंतिम संस्कार कर दिया, वो भी घर वालों की मर्जी के खिलाफ, युवती की मां बार-बार गुहार लगाती रही, लेकिन पुलिस अधिकारियों ने घर वालों को चिता के पास भी नहीं आने दिया और अंतिम संस्कार कर दिया।

मोदी ने सीएम योगी से की बात
हाथरस घटना को लेकर पीएम मोदी ने सीएम योगी से फोन पर बात की है, पीएम ने दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की बात कही है, इसके अलावा दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी इस पर ट्वीट किया है, साथ ही एआईएमआईएम चीफ ओवैसी ने भी आधी रात अंतिम संस्कार किये जाने पर सवाल खड़े किये हैं।

Read Also – तथ्य छुपाकर शादी करने वालों पर चलेगा सीएम योगी का हंटर, लव जेहाद करने वाले सावधान!