उत्तराखंड पुलिस का बड़ा फैसला, चीन को जवाब देने के लिए बंद किया Tik-Tok का इस्तेमाल

0
56
uttarakhand police tik tok banned

गलवान घाटी में भारत के 20 जवानों की शहादत के बाद से ही सीमा पर तनाव चल रहा है. भारत और चीन दोनों मिलकर मामले को बातचीत के जरिए सुलझाने की कोशिशों में लगे हैं. लेकिन, पूरे देश में चीन के प्रति काफी गुस्सा देखने को मिल रहा है. हालात ऐसे बन चुके हैं कि, कुछ लोग चीनी सामानों को बीच सड़क पर जला रहे हैं और चीन का विरोध कर रहे हैं. इसी क्रम में अब उत्तराखंड पुलिस ने बड़ा कदम उठाया है.

उत्तराखंड पुलिस ने चाइनीज एप Tik-Tok पर बैन लगा दिया है. पहले इस ऐप का इस्तेमाल पुलिस लोगों को जागरुक करने के लिए करती थी. लेकिन गलवान घाटी में 20 जवान शहीद होने के बाद पुलिस ने चीन का कड़ा विरोध जताते हुए एप के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है. बता दें, इससे पहले पुलिस ने जूम एप पर भी प्रतिबंध लगाया था.

दरअसल केंद्रीय गृहमंत्रालय ने जूप एप को लेकर एक गाइडलाइन जारी की थी और जूप एप पर रोक लगा दी गई थी. पर अब लोग टिक-टॉक पर आपत्ति जता रहे हैं. tik-tok banलोगों का मानना है कि, अपने जवानों की शहादत का बदला लेने का सिर्फ एक तरीका है और वो ये कि चीनी उत्पादों का उपयोग बंद कर दिया जाए. जानकारी के लिए बता दें, टिक-टॉक के अलावा 52 से ज्यादा एप हैं जो चाइनीज हैं और इनका इस्तेमाल धड़ल्ले से पूरे देश में हो रहा है.

ये भी पढ़ेंः- देवभूमि का अमर जवान, 72 घंटे में 300 चीनी सैनिकों को दिया था मुंहतोड़ जवाब, आज भी ड्यूटी पर है तैनात