rohit sardana1 (1)

अब सोशल मीडिया पर सवाल उठ रहे हैं कि रोहित सरदाना रिकवर कर चुके थे, मेट्रो हॉस्पीटल नोएडा को मेडिकल बुलेटिन जारी करके बताना चाहिये।

चर्चित टीवी पत्रकार रोहित सरदाना की शुक्रवार को दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई, कुछ दिन पहले वो कोरोना पॉजिटिव हो गये थे, नोएडा के सेक्टर 11 स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती थे, वहीं अब 42 वर्षीय रोहित सरदाना ने निधन के बाद सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल का ट्वीट वायरल हो रहा है, जिसके बाद सोशल मीडिया पर तरह-तरह के सवाल उठ रहे हैं।

क्या है ट्वीट
सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल ने ट्वीट कर कहा कि मेट्रो अस्पताल नोएडा के डॉक्टरों की गलती से रोहित सरदाना की मृत्यु हुई है, उन्होने लिखा, इस अस्पताल पर 2018 में भी मरीजों से चीटिंग की एफआईआर हुई थी, एक अन्य ट्वीट में उन्होने लिखा, रोहित को डॉ. तलवार द्वारा इलाज किया जाना था, वो वहां मौजूद नहीं थे, रोहित की पत्नी सुबह तक डॉ. पुरुषोत्तम लाल को फोन करती रहीं, लेकिन उन्होने फोन नहीं उठाया, स्टेराइड मॉनिटरिंग में देना था, लंग इंफेक्शन के लिये लेकिन मॉनिटरिंग ही नहीं की किसी डॉक्टर ने।

उठ रहे सवाल
अब सोशल मीडिया पर सवाल उठ रहे हैं कि रोहित सरदाना रिकवर कर चुके थे, मेट्रो हॉस्पीटल नोएडा को मेडिकल बुलेटिन जारी करके बताना चाहिये, कि कैसे रिकवर हो चुके रोहित की अचानक ह्दय गति रुक गई और किन परिस्थितियों में उन्हें आईसीयू में रखना पड़ा।

लोगों ने जताया शोक
रोहित सरदाना के निधन पर शोक जाहिर करते हुए पीएम मोदी ने ट्वीट किया, रोहित हमें बहुत जल्दी छोड़कर चले गये, ऊर्जा से परिपूर्ण भारत की प्रगति को लेकर जुनूनी और रहमदिल आत्मा, Rohit-Sardana रोहित की कमी लोग अनुभव करेंगे, उनके निधन से मीडिया जगत में खालीपन आ गया है, उनके परिवार, मित्रों तथा प्रशंसकों के प्रति संवेदना, ओम शांति।

Read Also – आजतक वाले रोहित सरदाना का निधन, सुधीर चौधरी ने भावुकता में कही ऐसी बात