1 जून से बदल जाएगा आपके राशन कार्ड से जुड़ा ये नियम, फटाफट जान लीजिए

0
974

1 जून से राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी को देश के कुल बीस राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से जोड़ा जाएगा, इस योजना के तहत पीडीएस के लाभार्थियों की पहचान उनके आधार कार्ड पर इलेक्ट्रॉनिक प्वाइंट ऑफ सेल डिवाइस से की जाएगी।

देश भर में इस्तेमाल आने वाला राशनकार्ड 1 जून से पूरी तरह से बदलने वाला है, दरअसल दो दिन बाद देशभर में राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी सेवा एक राष्ट्र- एक राशन कार्ड पर अमल किया जाएगा, जिससे आम लोगों को काफी फायदा मिलेगा, मालूम हो कि सुप्रीम कोर्ट ने भी मोदी सरकार से इस योजना क अमल में लाने के लिया कहा था, जिसके बाद कोरोना काल के दौरान वन नेशन वन राशन कार्ड आर्थिक रुप से कमजोर लोगों के लिये काफी फायदेमंज साबित होगा, इस योजना के बाद लॉकडाउन में पलायन कर रहे मजदूर आसानी से कम कीमत में अनाज ले सकते हैं, लेकिन इस बीच राशन कार्ड में कुछ बड़े बदलाव भी किये जा रहे हैं, आइये इसके बारे में हम आपको बताते हैं।

आधार कार्ड से होगी पहचान
1 जून से राशन कार्ड पोर्टेबिलिटी को देश के कुल बीस राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से जोड़ा जाएगा, इस योजना के तहत पीडीएस के लाभार्थियों की पहचान उनके आधार कार्ड पर इलेक्ट्रॉनिक प्वाइंट ऑफ सेल डिवाइस से की जाएगी, इस योजना को पूरे देश में लागू करने के लिये सभी पीडीएस दुकानों पर पीओएस मशीनें लगाई जाएंगी। जैसे-जैसे राज्य पीडीएस दुकानों पर 100 फीसदी पीओएस मशीन की रिपोर्ट देंगे, वैसे-वैसे उन्हें वन नेशन-वन राशन कार्ड योजना में शामिल किया जाएगा।

कहीं से भी ले सकते हैं राशन
इस योजना का लाभ देश की जनता किसी भी स्थान से राशन उठा कर ले सकती है, लाभार्थी कहीं से भी राशन डीलर से अपना कार्ड दिखाकर राशन ले सकते हैं, इस योजना के दौरान किसी को भी अपना पुराना राशन कार्ड जमा नहीं करवाना होगा, और ना ही नया राशन कार्ड बनवाना होगा।

भारत के नागरिक कर सकते हैं आवेदन
भारत के नागरिकता के साथ कोई भी शख्स राशन कार्ड के लिये आवेदन कर सकता है, इतना ही नहीं जिनकी उम्र 18 साल से कम है, वो अपना नाम माता-पिता के राशन कार्ड में जुडवा सकते हैं, जिसके बाद राशन कार्ड धारकों को 5 किलो चावल तीन रुपये की दर से और गेंहू दो रुपये किलो की दर से मिलेगा।

ऐसे ऑनलाइन करें आवेदन
इसके लिये सबसे पहले अपने मूल राज्य के खाद्य एवं रसद विभाग के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
यहां आपको अपनी भाषा का चुनाव करना होगा, जिस भाषा में जवाब देना चाहते हैं, उसे चुनें।
इसके बाद कुछ जानकारी जैसे जिला का नाम, क्षेत्र का नाम, कस्बा, ग्राम पंचायत के बारे में बताना होगा।
इसके बाद आपको अपने कार्ड का प्रकार बताना होगा, अगर गरीबी रेखा के नीचे हैं तो बीपीएल, अगर गरीबी रेखा से ऊपर हैं तो एपीएल या अंत्योदय चुनना होगा।
इसके बाद जब आप आगे बढेंगे आपसे कई जानकारी मांगी जाएगी, जैसे कि परिवार के मुखिया का नाम, आधार नंबर, वोटर आईडी कार्ड, बैंक खाता नंबर, मोबाइल नंबर इत्यादि।
पूरी जानकारी देने के बाद आखिर में आपको सब्मिट बटन पर क्लिक करना होगा, साथ ही इसका एक प्रिंट अपने पास जरुर रखें।