जहरीली शराब ने ली 32 लोगों की जान, मामले में एक महिला गिरफ्तार, एक्शन में सीएम

0
95
alcohol

मामले की जानकारी देते हुए डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि पहली पांच मौंते 29 जून की रात को अमृतसर ग्रामीण थाना क्षेत्र के तरसीका में मुच्छल और तंग्रा में हुई थी।

पंजाब के अमृतसर और तरनतारन में जहरीली शराब पीने से 32 लोगों की मौत हो गई है, ये जानकारी पंजाब पुलिस ने दी है, पुलिस ने कहा कि वो इस मामले की जांच कर रहे हैं, मामले में जान गंवाने वाले सभी लोग गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों से ताल्लुक रखते थे, मृतकों में एक की पहचान कुलदीप सिंह (24 साल) के रुप में की गई है, मामले की जांच के लिये पुलिस अधीक्षक की निगरानी में 4 सदस्यीय विशेष जांच दल का गठन किया गया है।

डीजीपी का बयान
मामले की जानकारी देते हुए डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि पहली पांच मौंते 29 जून की रात को अमृतसर ग्रामीण थाना क्षेत्र के तरसीका में मुच्छल और तंग्रा में हुई थी, फिर 30 जुलाई की शाम को मुच्छल में संदिग्ध परिस्थितियों में दो और लोगों की मौत हो गई, जबकि एक व्यक्ति को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

सीएम का ट्वीट
मामले पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर लिखा, मैंने अमृतसर, गुरदासपुर और तरनतारन में जहरीली शराब की मौतों की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिये हैं, कमिश्नर जालंधर डिवीजन मामले की जांच करेंगे और संबंधित एसएसपी तथा अन्य अधिकारियों के साथ समन्वय करेंगे, जो भी मामले में दोषी होगा, उसे बख्शा नहीं जाएगा।

एक महिला को पुलिस ने किया गिरफ्तार
मामले की छानबीन करते हुए पुलिस ने एक महिला को गिरफ्तार किया है, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मामले पर पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह की नाराजगी के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मचा है, वो प्रदेश में चल रहे अवैध शराब बनाने की फैक्ट्रियों पर नकेल कस रहे हैं। इसी सिलसिले में महिला को गिरफ्तार किया गया है, महिला से पूछताछ की जा रही है।