amravati

50 वर्षीय अरुण गाडवे अमरावती रिम्स अस्पताल में सिक्योरिटी गार्ड का इंचार्ज है, जिस पर अपने ही महिला कर्मचारियों का ड्रेस कोड का माप लेने की आड़ में अश्लील हरकत करने का आरोप है।

महाराष्ट्र के अमरावती जिले में महिलाओं के साथ गंदी हरकत करना सिक्योरिटी गार्ड के इंचार्ज को भारी पड़ गया, अश्लील हरकत करने वाले सिक्योरिटी इंचार्ज की मनसे कार्यकर्ताओं तथा महिलाओं ने जमकर पिटाई की, इंचार्ज को इतने थप्पड़ लगाये कि वो बेसुध हो गया, आइये विस्तार से बताते हैं कि आखिर पूरा मामला क्या है।

सिक्योरिटी गार्ड का इंचार्ज
दरअसल 50 वर्षीय अरुण गाडवे अमरावती रिम्स अस्पताल में सिक्योरिटी गार्ड का इंचार्ज है, जिस पर अपने ही महिला कर्मचारियों का ड्रेस कोड का माप लेने की आड़ में अश्लील हरकत करने का आरोप है, woman1 आरोप के मुताबिक वो महिलाओं के आनाकानी करने पर उन्हें नौकरी से निकाल देने की धमकी देता था।

महिलाओं ने की शिकायत
महिला कर्मचारियों की बात किसी तरह मनसे कार्यकर्ताओं तक पहुंची, जिसके बाद मनसे कार्यकर्ताओं ने बीच रास्ते अरुण गाडवे को रोक लिया, फिर थप्पड़ से उनकी धुनाई कर डाली, woman3 बाद में मनसे वर्करों ने उसे राजापेठ पुलिस थाने के हवाले कर दिया, जहां उसके खिलाफ छेड़खानी का मामला दर्ज किया गया है, उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

अश्लील हरकतें
मनसे वर्करों की मानें, तो रिम्स अस्पताल का सिक्योरिटी इंचार्ज अपने यहां काम करने वाली महिला कर्मचारियों के साथ अश्लील हरकतें करता था, आज तो उसने हद पार दी, उसने ड्रेस की माप लेने की आड़ में महिलाओं के साथ गंदी हरकतें की, जिसकी शिकायत महिला कर्मचारियों ने हमारे पदाधिकारियों से की, woman इसके बाद मनसे वर्करों ने सिक्योरिटी इंचार्ज को बीच रास्ते रोका, उनसे पूछताछ की, फिर मनसे कार्यकर्ताओं ने उस पर थप्पड़ की बरसात शुरु कर दी, मनसे कार्यकर्ताओं और महिलाओं ने इसे इतना पीटा, कि वो बेहाल हो गया।

Read Also – पति से शारीरिक संबंध बनाने को लेकर विवाद, पत्नी ने काट लिया प्राइवेट पार्ट