helicopter (1)

बीते दिन खबर आई के अनुसार तमिलनाडु के नीलगिरी में भारतीय सेना का हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया, जिसमें सीडीएस बिपिन रावत उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत कुल 14 लोग सवार थे।

भारतीय वायुसेना के एमआई-17 वी5 हेलीकॉप्टर को सबसे सुरक्षित और विश्वसनीय हेलीकॉप्टर माना जाता है, इसकी खूबियां ऐसी है कि हेलीकॉप्टर की तुलना बोइंग सीएच-47 चिनूक से होती है, सेना के बड़े अधिकारी ही नहीं बल्कि खुद प्रधानमंत्री मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई दिग्गज नेता इस हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल करते हैं।

पत्नी समेत सवार थे बिपिन रावत
बीते दिन खबर आई के अनुसार तमिलनाडु के नीलगिरी में भारतीय सेना का हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया, जिसमें सीडीएस बिपिन रावत उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत कुल 14 लोग सवार थे, ये भयंकर हादसा कुन्नूर में पहाड़ी पर हुआ है, इस हादसे में 14 में से 13 लोगों की मौत हो चुकी है।

सबसे सुरक्षित हेलीकॉप्टर
इसे भारतीय वायुसेना का सबसे सुरक्षित तथा विश्वसनीय हेलीकॉप्टर माना जाता है, रिपोर्ट के मुताबिक ये रुस निर्मित हेलीकॉप्टर है, ये चॉपर रॉकेट तक को ले जाने में सक्षम है, इस हेलीकॉप्टर की तुलना बोइंस सीएच-47 चिनूक से की जाती है, जो उन्नत किस्म का चॉपर है, मामले में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पीएम मोदी को घटना के संबंध में जानकारी दी। जिसके बाद पीएम मोदी ने इस पर कल आपात बैठक बुलाई थी।

क्या है खासियत
भारतीय वायुसेना के इस हेलीकॉप्टर में कई खूबियां हैं, ये दुनिया के सबसे उन्नत परिवहन हेलीकॉप्टरों में से एक है, इसे आर्म्स ट्रांसपोर्ट, फायर सपोर्ट, काफिले एस्कॉर्ट, पेट्रोल और सर्च एंड रेस्क्यू मिशनों में भी तैनात किया जाता है, इसके साथ ही इसी तकनीकों की बात करें, तो ये कई हथियारों से लैस है, इस चॉपर में हथियारों को निशाना बनाने के लिये 8 फायरिंग पोस्ट है, चॉपर की अधिकतम गति सीमा 250 किमी प्रति घंटा और मानक रेंज 580 किमी है, यानी जरुरत पड़ने पर इसे बढाया भी जा सकता है, ये हेलीकॉप्टर अधिकतम 6000 मीटर की ऊंचाई पर उड़ सकता है।

Read Also – इमाम की पत्नी ने दाढी की वजह से दी शादी तोड़ने की धमकी, कहा मैं मॉडल लड़की हूं