Gadhwa

रिपोर्ट के अनुसार शादी के 12 साल बाद भी बच्चा नहीं होने पर पति समेत ससुराल वालों ने विवाहिता के साथ इस तरह की दरिंदगी की है।

झारखंड में महिलाओं के खिलाफ शर्मनाक अपराधों का सिलसिला थम नहीं रहा है, ताजा मामला धुरकी थाना क्षेत्र के परसपानी गांव की है, जहां एक महिला के कमर के नीचे का हिस्सा लोहे के गर्म रॉड से जला दिया गया है, पति तथा ससुराल वालों पर इस वीभत्स घटना को अंजाम देने का आरोप लगा है।

भागकर बचाई जान
आरोपियों ने पीड़िता के प्राइवेट पार्ट समेत शरीर के निचले हिस्से को पूरी तरह से जला दिया है, महिला को गंभीर हालत में सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है, घायल महिला को अस्पताल तक पहुंचने के लिये भी काफी भटकना पड़ा, महिला ने जंगल में भागकर किसी तरह अपनी जान बचाई।

बच्चा ना होने से नाराज
रिपोर्ट के अनुसार शादी के 12 साल बाद भी बच्चा नहीं होने पर पति समेत ससुराल वालों ने विवाहिता के साथ इस तरह की दरिंदगी की है, बताया गया है कि परसपानी गांव निवासी दिनेश प्रसाद गुप्ता की पत्नी लक्ष्मी देवी पिछले 12 साल से मां नहीं बन सकी थीं, woman5 इस बात से नाराज पति, ससुर, देवर और देवरानी ने उनके कमर के निचले हिस्से को गर्म लोहे से जला दिया, घायल महिला का इलाज चल रहा है, लेकिन उनकी हालत गंभीर बतायी जा रही है।

जान बचाई
पीडिता के बयान के अनुसार उन्होने किसी तरह फोन कर इस हैवानियत की जानकारी डंडई स्थित अपने मायके वालों को दी, पीड़िता की सौतेली मां पुष्पाजंलि देवी ने बताया कि woman2 बच्चा नहीं होने पर जगह-जगह दाग दिये जाने के बाद किसी तरह विवाहिता ने जंगल-जंगल भागकर फोन किया, ससुराल वालों से अपनी जान बचाई।

Read Also – दलित युवक को दी प्यार करने की सजा, पेड़ से बांध कर पीटा, प्राइवेट पार्ट में