Home देश एक्ट्रेस से कम नहीं है IPS अंकिता शर्मा का स्टाइल, अब इस...

एक्ट्रेस से कम नहीं है IPS अंकिता शर्मा का स्टाइल, अब इस काम की हो रही जबरदस्त चर्चा!

0
257
ankita sharma ips

अंकिता छत्तीसगढ की राजधानी रायपुर के आजाद चौक इलाके में नगर पुलिस अधीक्षक पद पर तैनात है, वो छत्तीसगढ के दुर्ग जिले के एक छोटे से गांव से है।

आईपीएस अंकिता शर्मा उन युवाओं की मदद के लिये सामने आई हैं, जिसमें कुछ कर गुजरने की ललक है, आईपीएस के इस कदम से सोशल मीडिया पर उनकी जमकर तारीफ हो रही है, दरअसल अंकिता पूरे सप्ताह ड्यूटी में व्यस्त रहती हैं, तथा रविवार को एक टीचर की भूमिका में आ जाती है, इस दौरान वो अपने ऑफिस में करीब 20-25 युवाओं को पढाती है, जो यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, इनमें से ज्यादातर ऐसे युवा शामिल हैं, जो कोचिंग की महंगी फीस नहीं दे सकते, अंकिता अपने कामों के अलावा लुक को लेकर भी चर्चा में रहती हैं, वो इंस्टाग्राम पर अकसर अपनी तस्वीरें पोस्ट करती रहती हैं।

दुर्ग के छोटे गांव से नाता
अंकिता छत्तीसगढ की राजधानी रायपुर के आजाद चौक इलाके में नगर पुलिस अधीक्षक पद पर तैनात है, वो छत्तीसगढ के दुर्ग जिले के एक छोटे से गांव से है, उन्होने अपनी शुरुआती पढाई स्कूल से की है। अंकिता को साल 2018 में तीसरे प्रयास में सफलता मिली थी, उन्होने यूपीएससी परीक्षा में 203वीं रैंक हासिल की थी, इसके बाद अंकिता होम कैडर पाने वाली छत्तीसगढ की पहली महिला आईपीएस बनी।

बचपन से बनना चाहती थी आईपीएस
अंकिता ने एक इंटरव्यू में बताया था कि वो बचपन से ही आईपीएस बनना चाहती थी, लेकिन इस विषय में उन्हें कोई जानकारी नहीं थी, मार्गदर्शन के लिये कोई नहीं था, इस वजह से उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ा। अंकिता ने दुर्ग से ग्रेजुएशन करने के बाद एमबीए किया, फिर यूपीएससी की तैयारी के लिये दिल्ली चली गई, लेकिन उन्होने सिर्फ 6 महीने ही वहां पढाई की, फिर घर वापस आकर सेल्फ स्टडी करने लगी। अंकिता ने बताया कि तैयारी की दौरान ही उनकी शादी हो गई थी, उनके पति विवेकानंद शुक्ला आर्मी में मेजर हैं, वर्तमान में मुंबई में तैनात हैं, पति के साथ रहते हुए उन्होने जम्मू-कश्मीर, हैदराबाद और झांसी में समय बिताया, इस दौरान उन्हें दो बार असफलता मिली, लेकिन तीसरी बार में उन्होने परीक्षा पास की।

गणतंत्र दिवस परेड के नेतृत्व
अंकिता को घुड़सवारी तथा बैडमिंटन खेलने का शौक है, इंस्टग्राम पर अकसर वो घुड़सवारी की तस्वीरें पोस्ट करती रहती हैं, इस साल गणतंत्र दिवस पर 26 जनवरी को छत्तीसगढ के रायपुर में पुलिस परेड ग्राउंड में ट्रेनी आईपीएस अंकिता ने परेड का नेतृत्व किया था, इसके साथ ही वो राज्य के इतिहास में गणतंत्र दिवस परेड की कमान संभालने वाली पहली महिला पुलिस अधिकारी बनी थी।