मोदी सरकार की चीन पर डिजिटल स्ट्राइक, बैन किए 59 चायनीज ऐप

0
214
Indian Government Ban 59 Chinese Apps

भारत-चीन (India-china) के तनाव के बीच मोदी सरकार ने चीन पर डिजिटल स्ट्राइक की है. जी हां, मोदी सरकार ने चीन को बड़ा झटका देते हुए 59 चायनीप एप को बैन (chinese apps ban) कर दिया है और ये फैसला सरकार ने निजता की सुरक्षा के मद्देनजर लिया है. वैसे दोनों देशों के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद से ही भारत में लगातार चीनी उत्पादों का बहिष्कार किया जा रहा था. लोगों ने फोन से टिक-टॉक (Tik-Tok) जैसे एप तक को डिलीट कर दिया था और कई चीनी सामानों को भी घरों और दुकानों से बाहर कर दिया था.

भारत सरकार की चीन पर डिजिटल स्ट्राइक
सरकार द्वारा जिन लोकप्रिय चीनी एप्स को बैन किया गया है उसमें शेयरइट, हैलो, यूसी ब्राउजर, लाइकी, वीचैट और क्लब फैक्ट्री शॉपिंग समेत कुल 59 ऐप शामिल हैं.china apps ban PIB इंडिया के ट्वीट के मुताबिक, ‘सरकार ने उन 59 मोबाइल ऐप को भारत में प्रतिबंधित कर दिया है जो भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और खराब व्यवस्था के लिए पूर्वाग्रहपूर्ण थे.’

सरकार ने ऐप को बैन करने के बाद बताया कि, ये फैसला भारत के 130 करोड़ नागरिकों की निजी सुरक्षा को देखते हुए लिया गया है और हाल ही में ये देखा गया कि, इससे न सिर्फ नागरिकों को बल्कि हमारे देश की संप्रभुता और सुरक्षा को भी बहुत बड़ा खतरा है.

आपको बता दें, लद्दाख विवाद को लेकर दोनों देशों के बीच तनाव लगातार तूल पकड़ता जा रहा है. सैटेलाइट तस्वीरों से खुलासा हुआ है कि, वह सीमा पर लगातार सैनिकों की तादाद और हथियार बढ़ा रहा है. ऐसे में भारत को भी अपने अधिक जवानों की तैनाती सीमा पर करनी पड़ रही है जिससे देश की सुरक्षा हो सके. फिलहाल भारत सरकार का ये फैसला चीन के लिए एक बहुत बड़ा झटका है क्योंकि, बैन किए गए एप्स में ऐसे कई ऐप शामिल हैं जिनका उपयोग भारत के अधिकांश नागरिक करते थे.

ये भी पढ़ेंः- उत्तराखंड पुलिस का बड़ा फैसला, चीन को जवाब देने के लिए बंद किया Tik-Tok का इस्तेमाल