giridih

एसपी ने बताया कि इस घटना को लेकर स्पेशल टीम गठित की गई थी, मोबाइल डिटेल के आधार पर धनबाद जिले के ईस्ट बसूरिया ओपी के सॉरीटांड निवासी सुदर्शन राम के बेटे पप्पू कुमार और धनबाद जिले के भूली थाना क्षेत्र निवासी स्वर्गीय रामकुमार शर्मा के बेटे विवेक कुमार शर्मा को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है।

गिरिडीह जिले के निमियाघाट थाना क्षेत्र में 30 मार्च को हुई मोहित हत्याकांड को पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है, इस हत्याकांड में शामिल दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है, साथ ही हत्या में इस्तेमाल किये गये चाकू, सब्बल समेत अन्य हथियार भी बरामद कर लिया गया है।

अवैध संबंध की वजह से हत्या
हत्या का मुख्य कारण मृतक मोहित की एक महिला से अवैध संबंध बताया जा रहा है, पुलिस भी इसी बिंदु को जांच करते हुए हत्यारे तक पहुंचने में सफल रही, आपको बता दें कि लालबाजार स्थित एनएच-2 के बगल में खून से लथपथ युवक का शव मिला था, जिसमें बेरहमी से उसकी हत्या कर दी गई थी।

विशेष टीम का गठन
लिहाजा एसपी के निर्देश पर इस केस की जांच के लिये एक विशेष टीम का गठन किया गया था, और घटना के 6ठें दिन पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा कर दिया, मृतक मोहित धनबाद का रहने वाला था, couple एसपी अमित रेणु ने रविवार को अपने ऑफिस में मीडिया से बात करते हुए पूरे मामले की जानकारी दी।

क्या है पूरा मामला
एसपी ने बताया कि इस घटना को लेकर स्पेशल टीम गठित की गई थी, मोबाइल डिटेल के आधार पर धनबाद जिले के ईस्ट बसूरिया ओपी के सॉरीटांड निवासी सुदर्शन राम के बेटे पप्पू कुमार और धनबाद जिले के भूली थाना क्षेत्र निवासी स्वर्गीय रामकुमार शर्मा के बेटे विवेक कुमार शर्मा को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है, जिसमें पूछताछ में पप्पू कुमार ने बताया कि उसकी पत्नी के साथ मोहित का अवैध संबंध था, जिसके कारण दोस्त के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी, शव को निमियाघाट थाना क्षेत्र के लाल बाजार के पास एनएच-2 के किनारे फेंक दिया। पप्पू ने पुलिस से कहा कि यदि उसकी हत्या नहीं करता, तो मोहित मुझे मार देता, एसपी ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों के पास से हत्या में इस्तेमाल सफेद रंग की एक स्विफ्ट डिजायर कार जिसका नंबर जेएच-10 सीसी, 7351 बरामद की गयी है, लोहे का सब्बल भी बरामद किया गया है।

Read Also – पति ने देवर संग रंगेहाथों पकड़ा, तो पत्नी ने रची साजिश, लगा दिया ठिकाने, ऐसे खुला मामला!