noida

नोएडा में भी उसे बंधक बनाकर रखा गया, पीड़िता के अनुसार इसके बाद शाहिद उसे अपने पैतृक गांव पीपरोली, गोपालगढ ले गया, वहां पर जबरन उसका निकाह शाहिद के करवाया गया।

राजस्थान की राजधानी जयपुर की महिला से बलात्कार के बाद उनका धर्म परिवर्तन कराने का मामला सामने आया है, पुलिस ने इस केस के मुख्य आरोपित शाहिद मेव और उसके सहयोगी भाई आमिर हुसैन को गिरफ्तार कर लिया है, पीड़िता के अनुसार शाहिद उन्हें काम दिलाने के बहाने कश्मीर ले गया था, वहां डरा-धमकाकर उसके साथ रेप किया, फिर जबरन निकाह कर लिया, उनके बेटे का खतना कराने की धमकी भी दी, शाहिद की जबरदस्ती की वजह से महिला प्रेग्नेंट हो गई, बाद में उन्होने एक बेटी को जन्म दिया, पुलिस आरोपियों से पूछताछ में जुटी है।

कश्मीर ले गया
पुलिस के मुताबिक आरोपी शाहिद मेव पति से प्रताड़ित और आर्थिक रुप से परेशान महिला को दिल्ली में रोजगार दिल्ली के बहाने कश्मीर ले गया था, इस संबंध में मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तार के लिये एलग-अलग टीमों का गठन किया था, इन टीमों ने गोपालगढ, भरतपुर, फिरोजपुर, झिरका, नूंह, मेवात, सोहना, गुरुग्राम, दिल्ली, पानीपत और कश्मीर में आरोपियों की तलाश में छापेमारी की।

गुरुग्राम में टैक्सी से दबोचे गये आरोपी
इस बीच पुलिस को सूचना मिली कि गुरुग्राम में आरोपित शाहिद अपने सहयोगी भाई आमिर हुसैन के साथ कैब में कहीं जा रहा था, इस पर पुलिस ने घेराबंद करके दोनों को धर दबोचा, दरअसल मुख्य आरोपी शाहिद के खिलाफ प्रकरण दर्ज होने की खबर समाचार पत्रों में प्रकाशित होने के बाद उसे भाई आमिर हुसैन ने इसकी सूचना दी, इस पर अपने बचाव की रणनीति तय करने के लिये श्रीनगर से आमिर हुसैन के पास गुरुग्राम आ गया, यहीं पुलिस के हत्थे चढ गया।

ये है पूरा मामला
16 जुलाई को पीड़िता ने इस्तगासे के जरिये प्रताप नगर थाने में शिकायत दी थी, कि वो अपने पति के शराब पीकर मारपीट करने तथा आर्थिक तंगी के कारण परेशान चल रही थी, वो जयपुर के हरमाड़ा में किराये के मकान में रहकर अपना जीवन यापन कर रही थी, उसी दौरान उसी मकान में किराये पर रह रहा शाहिद मेव ने उसे जून 2016 में काम दिलाने के बहाने अपने साथ दिल्ली ले जाने की बात कही, लेकिन वो उसे दिल्ली ना ले जाकर गांदरबल कश्मीर ले गया। वहां पर उसके बच्चे को जान से मारने की धमकी देकर उसके साथ रेप किया, फिर उसके बाद आरोपी के भाई आमिर हुसैन ने नोएडा स्थित किराये के मकान पर ले जाकर उसे डराया धमकाया, उसके जेवर छीनकर बेच दिये।

पहले निकाह फिर धर्मांतरण
नोएडा में भी उसे बंधक बनाकर रखा गया, पीड़िता के अनुसार इसके बाद शाहिद उसे अपने पैतृक गांव पीपरोली, गोपालगढ ले गया, वहां पर जबरन उसका निकाह शाहिद के करवाया गया, शाहिद और उसके परिजनों ने उस पर नमाज और कुरान पढने का दबाव बनाया, यही नीहं उनके बेटे का खतना करवा दिये जाने की धमकी दी गई, पीड़िता का आरोप है कि शाहिद ने उसके अश्लील वीडियो फोटो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी, शाहिद द्वारा लगातार शारीरिक संबंध बनाये जाने के कारण उसने बेटी को जन्म दिया, बाद में मजबूरीवश करीब 4 साल आरोपी के साथ रही।

Read Also – पति 20 साल छोटी पत्नी को नहीं दे पाता था ‘सुख’, प्राइवेट पार्ट काटकर…