बिहार चुनाव से पहले ही बिखर गया महागठबंधन का कुनबा!, रालोसपा के बाद तेजस्वी को एक करारा झटका

0
105

कांग्रेस अब सभी 243 सीटों पर उम्मीदवार उतारने की दिशा में आगे बढ रही है, उम्मीदवारों के नाम तैयार किये जा रहे हैं, बुधवार रात या फिर गुरुवार सुबह तक उम्मीदवारों के नाम का ऐलान संभव है।

क्या बिहार में महागठबंधन में अब तक की सबसे बड़ी दरार पड़ने वाली है, दरअसल ये सवाल इसलिये पूछा जा रहा है, कि लंबे समय से एक-दूसरे के साथी रहे कांग्रेस और राजद का गठबंधन टूटना भी लगभग तय माना जा रहा है, इतना ही नहीं कांग्रेस ने बिहार की सभी 243 सीटों पर अकेले ही चुनाव लड़ने की दिशा में कदम आगे बढा दिया है, उम्मीदवारों के नामों की सूची तैयार की जा रही है, कांग्रेस के उच्च पदस्थ सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी है।

इतनी सीटें देने को तैयार
सूत्रों का दावा है कि राजद कांग्रेस को 73 से 75 सीटें देने को राजी है, कांग्रेस इतनी ही सीटें मांग भी रही है, लेकिन इसके बाद भी मामला फंस गया है, अब सवाल ये है कि जब मनमुताबिक सीटें मिल रही है, तो फिर कांग्रेस को क्या ऐतराज है, दरअसल मामला सीटों की संख्या नहीं बल्कि सीटों के नाम को लेकर फंस गया है, सूत्रों का कहना है कि राजद उन्हें 73-75 सीटें देने को तैयार है, लेकिन इसमें से 10 सीटें शहरी इलाके यानी अर्बन सीटें है, कांग्रेस को ये मंजूर नहीं है, कांग्रेस अपना फोकस ग्रामीण सीटों पर कर रही है, उन्हें लगता है कि अर्बन सीटों पर उतरना फायदे का सौदा नहीं होगा, इसलिये वो नखरे दिखा रही है।

सम्मानजनक नहीं
कांग्रेस का कहना है कि राजद भले ही 73 से 75 सीटें देने को तैयार हों, लेकिन इसे वह 63-56 सीटें ही मान कर चल रही है, और ये संख्या सम्मान जनक नहीं है, पिछली बार 2015 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 41 सीटों पर चुनाव लड़ा था, तब जदयू भी महागठबंधन के साथ थी।

क्या होगा कांग्रेस का अगला कदम
सूत्रों के अनुसार कांग्रेस अब सभी 243 सीटों पर उम्मीदवार उतारने की दिशा में आगे बढ रही है, उम्मीदवारों के नाम तैयार किये जा रहे हैं, बुधवार रात या फिर गुरुवार सुबह तक उम्मीदवारों के नाम का ऐलान संभव है। कुल मिलाकर सीटों को लेकर महागठबंधन में एक नतीजे तक पहुंचने का सफर बहुत कठिन होता जा रहा है।

Read Also – बिहार के एक और एक्टर की मुंबई में संदिग्ध मौत, परिजन लगा रहे आरोप