couple

पुलिस के अनुसार बीते 4 अगस्त की रात को थाटीपुर पुलिस को सूचना मिली, कि तृप्तिनगर में रहने वाले 58 वर्षीय रविदत्त दूबे की हत्या हो गई है, रविदत्त ग्वालियर कलेक्ट्रेट में क्लर्क थे।

एमपी के ग्वालियर से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है, यहां 17 साल की एक बेटी ने प्रेमी के दोस्त को हनीट्रैप में फंसाया, फिर अपने ही पिता की हत्या करवा दी, दरअसल पिता ने कुछ दिन पहले उसे थप्पड़ मारा था, जिसे वो सहन नहीं कर सकी, उसने क्राइम सीरीयल देखकर हत्याकांड की योजना बनाई, लेकिन उसके मोबाइल की कॉल डिटेल ने पूरा राज खोल दिया, पुलिस ने नाबालिग लड़की और युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

4 अगस्त को हत्या
पुलिस के अनुसार बीते 4 अगस्त की रात को थाटीपुर पुलिस को सूचना मिली, कि तृप्तिनगर में रहने वाले 58 वर्षीय रविदत्त दूबे की हत्या हो गई है, रविदत्त ग्वालियर कलेक्ट्रेट में क्लर्क थे, सूचना मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची, तथा फॉरेंसिक जांच करवाई, शव को पोस्टमॉर्ट्म के लिये भेजकर जांच शुरु की। चूंकि घर के कमरे में सोते समय हत्या हुई थी, इसलिये पुलिस का शक परिजनों पर था, पुलिस ने बताया कि हत्या से पहले खाना खाने के बाद दूबे ने अपने परिवार के साथ घर के पहले माले पर सो रहे थे, इसी मंजिल पर पत्नी भारती, दोनों बेटियां और बेटा भी सो रहा था, देर रात कमरे में तेज धमाका हुई, घरवाले जागे और बत्ती जलाई, तो रविदत्त बिस्तर पर खून से लथपथ पड़े थे, उनकी मौके पर ही मौत हो गई थी।

पुलिस ने खंगाली डिटेल
पुलिस ने जब मामले की गहराई से जांच की, तो मृतक की 17 वर्षीय छोटी बेटी पर शक हुआ, पुलिस ने उसकी मोबाइल डिटेल निकाली, तो पता चला कि couple (4) नाबालिग लड़की बीते 15 दिन से एक खास नंबर के संपर्क में थी, पुलिस ने ट्रेस किया, तो नंबर इलाके के रहने वाले पुष्पेन्द्र का था, दूसरी ओर पड़ोसियों ने पुलिस को बताया कि लड़की का करन रजौरिया नाम के युवक के साथ अफेयर चल रहा है।

प्रेमी ने खोला राज
इसके बाद पुलिस ने छात्रा के प्रेमी करन से पूछताछ की, फिर अहम जानकारी मिलने के बाद लड़की से पूछताछ की, जिसमें लड़की टूट गई और पूरा राज खोल दिया, पुलिस ने बताया कि लड़की करण से मिलती थी, एक बार पिता ने दोनों को आपत्तिजनक हालत में देख लिया, जिसके बाद बेटी की पिटाई कर दी, इसी बात से बेटी अपने पिता से नाराज हो गई, छात्रा ने प्रेमी करन से पिता की हत्या करने को कहा, लेकिन उनसे अपराध करने के बजाय उल्टा उससे रिश्ता भी खत्म कर लिया। इसके बाद लड़की ने करण के दोस्त पुष्पेन्द्र लोधी से दोस्ती कर ली, उसे अपने प्रेमजाल में फंसाया, फिर पिता की हत्या के लिये तैयार किया, 4 अगस्त की रात पुष्पेन्द्र को अपने घर बुलाया, रात दो बजेपुष्पेन्द्र ने रविदत्त को कट्टे से गोली मार दी, फिर मौके से फरार हो गया।

Read Also – होटल के सामने प्रेमिका के साथ था पति, तभी पहुंच गई पत्नी, फिर दे दनादन, वीडियो देखिये