दीपिका पादुकोण ने NCB के सामने उगला ‘डूब सिगरेट’ का राज, जानिये क्या कहता है कानून?

0
202
Deepika 2

दीपिका पादुकोण ने बताया बहुत से लोग डूब पीते हैं, ये पूछे जाने पर कि क्या इसमें कोई दवा है, वह सवाल के जवाब में चुप रही।

सुशांत सिंह राजपूत केस के बाद एक के बाद एक ड्रग कनेक्शन बॉलीवुड में खुल रहे हैं, मुंबई में एनसीबी द्वारा फिल्मी हस्तियों से पूछताछ में कई तथ्य खुलकर सामने आये हैं, स्टार एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण ने एनसीबी को पूछताछ में स्पष्ट किया, कि वो ड्रग्स नहीं लेते हैं, लेकिन वो एक खास सिगरेट पीती है, जिसे डूब कहा जाता है, तो सवाल ये है कि ये डूब सिगरेट क्या है, क्या ये किसी भी प्रकार की दवाओं का इस्तेमाल करता है और एनडीपीएस अधिनियम के तहत क्या प्रावधान है।

क्या है डूब सिगरेट
दिल्ली पुलिस की नशीली दवाओं की शाखा में काम करने वाले एक अधिकारी ने बताया कि डूब वाला सिगरेट रोल होता है, यानी बाजार में उपलब्ध सिगरेट के कागज को खुद से रोल करके तैयार करना फिर उसे पीना, Deepika Padukone इसका उपयोग बड़ी नशा के लिये किया जाता है, ये नशा किसी भी तरह का हो सकता है, चाहे वह तंबाकू हो या मारिजुआना हो या कोकीन।

दीपिका ने क्या कहा
दीपिका पादुकोण ने बताया बहुत से लोग डूब पीते हैं, ये पूछे जाने पर कि क्या इसमें कोई दवा है, वह सवाल के जवाब में चुप रही, अमित साहनी ने बताया कि अपराध साबित होने पर इस मामले में धारा 27 लगती है, जिसके तहत आरोपी द्वारा बताई गई दवाएं एनडीपीएस अधिनियम में अनुसूची में निषिद्ध श्रेणी के भीतर आती है, इसमें नशा करने वालों के 6 महीने या 1 साल की कैद की सजा हो सकती है।

नारकोटिक्स एक्ट के तहत क्या है प्रावधान
वकील तथा सामाजिक कार्यकर्ता अमित साहनी ने बताया कि नारकोटिक्स ड्रग्स एंड साइकोटॉपिक सब्सटेंस एक्ट 1985 के तहत कोई भी व्यक्ति इस प्रावधान के खिलाफ जाता है, किसी तरह के ड्रग्स का सेवन करता है, या इसे बनाता है, बेचता है, ड्रग्स की मात्रा कम होने पर 10 महीने या अधितकम 20 साल की सजा और 2 लाख का जुर्माना हो सकता है। आपको बता दें कि डूब का इस्तेमाल कोकीन के सेवन के लिये किया जाता है, इस मामले में अधिकारी ने कहा कि ज्यादातर कोकीन का सेवन डूब में किया जाता है, जो लोग कोकीन के आदी हैं, वो इसका बड़ी मात्रा में इस्तेमाल करते हैं।

Read Also – श्रद्धा, सारा और दीपिका को NCB का समन, कंगना का ट्वीट जबरदस्त वायरल