फेसबुक से डील कराने में छोटे अंबानी की बड़ी भूमिका, मोदी की स्किल भी आई काम, ये है इनसाइड स्टोरी

0
42
ambani family

रिलायंस से जुड़ो दो सूत्रों ने बिजनेस इनसाइडर से बात करते हुए कहा कि फेसबुक-रिलायंस जियो डील कराने में आकाश अंबानी की बड़ी भूमिका रही है।

कोरोना काल में लोग अपने घरों में कैद हैं, लेकिन इस बीच रिलायंस जियो अपने बिजनेस का विस्तार कर रही है, मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली इस कंपनी ने संकट के दौर में भी बहुत बड़ा निवेश हासिल किया है, कंपनी अब तक फेसबुक समेत कई डील्स से 97 हजार करोड़ रुपये की रकम हासिल कर ली है, ग्रुप को ये रकम जियो में 21 फीसदी हिस्सेदारी बेचने से हासिल हुई है, भले ही इन डील्स के लिये मुकेश अंबानी के नेतृत्व की सराहना हो रही है, लेकिन बिजनेस इनसाइडर की रिपोर्ट के अनुसार उनके बड़े बेटे आकाशा अंबानी की इनमें अहम भूमिका रही है।

आकाश की बड़ी भूमिका
रिलायंस से जुड़ो दो सूत्रों ने बिजनेस इनसाइडर से बात करते हुए कहा कि फेसबुक-रिलायंस जियो डील कराने में आकाश अंबानी की बड़ी भूमिका रही है, फेसबुक समेत सभी डील्स में उनकी राय भी अहम रही है, उन्होने ही फेसबुक को पहले इंवेस्टर के तौर पर शामिल करने का फैसला लिया था, क्योंकि वो कंपनी इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप्प के साथ भारत आई है, सूत्रों के मुताबिक आकाश अंबानी के अलावा रिलायंस ग्रुप के वरिष्ठ अधिकारी मनोज मोदी ने भी अहम भूमिका निभाई थी।

तीनों की भूमिका
मनोज मोदी रिलायंस रिटेल के सीईओ हैं, कंपनी के करीबी सूत्रों ने बताया कि मुकेश अंबानी के नाम पर कोई भी डील आसानी से की जा रही है, कोई भी निवेशक ये देखता है कि वो जिस कंपनी के साथ डील कर रहा है,  उसकी रेपुटेशन क्या है, भविष्य में उसकी रकम कितनी सुरक्षित है, इन डील्स को मुकेश अंबानी के भरोसे और रेपुटेशन इसके साथ ही आकाश अंबानी की हार्ड वर्क तथा मनोज मोदी की स्किल्स की वजह से संभव हो सका है।

22 साल की उम्र में रिलायंस से जुड़े थे आकाश अंबानी
साल 2014 में आकाश अंबानी रिलायंस इंडस्ट्रीज से जुड़े थे, वो अपने पिता के मुकाबले दो साल पहले ही कारोबार से जुड़ गये थे, ब्राउन यूनिवर्सिटी से इकॉनमिक्स की डिग्री हासिल करने के बाद आकाश अंबानी ने परिवार का बिजनेस ज्वाइन किया था, वहीं मुकेश अंबानी स्टैनफोर्ड से पढकर आये थे और 24 साल की उम्र में कारोबार से जुड़े थे।